चंपारण्य CHAMPARANYA

चंपारण्य CHAMPARANYA

Travel Postcard

चंपारण्य को चंपाझर भी कहा जाता था। छत्तीसगढ के इस छोटे से कस्बे का वैष्णव सम्प्रदाय में बडा महत्व है। वैष्णव सम्प्रदाय के वल्लभ मत के संस्थापक स्वामी वल्लभाचार्य का जन्म यहीं हुआ था। वल्लभ मत को पुष्टिमार्ग भी कहा जाता है। उनकी याद में यहां एक मंदिर बना है। वैसाख महीने के 11वें दिन स्वामी वल्लभाचार्य के जन्मदिन पर मंदिर में एक मेला लगता है जिसमें दूर-दूर से भक्त आते हैं। इसके साथ ही यहां का चंपाकेश्वर महादेव मंदिर भी प्रसिद्ध है। यह कस्बा रायपुर से करीब 60 किलोमीटर दूर है।

The birth place of saint Vallabhacharya, Champaranya has rich culture and Tradition. A beautiful temple built to honor the founder of the Vallabh Sect, is truly mesmerizing and forces many to come to visit this place. Another must see, if you are here is a Vaishnava Peeth (pilgrim site.) – The temple of Champakeshwara Mahadeva. Every year, large number of Devotees throngs to visit this sacred place.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *