कैसे करें सरकारी पर्यटन विकास निगम के होटलों की बुकिंग, साथ ही जानिए कुछ बेहतर होटलों के नाम

कैसे करें सरकारी पर्यटन विकास निगम के होटलों की बुकिंग, साथ ही जानिए कुछ बेहतर होटलों के नाम

इससे पहले लेख में मैंने सरकारी होटलों की व्यवस्था और उन होटलों की ख़ूबियों और कमियों के बारे में बात की थी। उसे पढ़ने के बाद कई पाठकों और दोस्तों के सुझाव मिले कि इन होटलों को बुक करने की पूरी प्रक्रिया, बुकिंग लिंक और अच्छे सरकारी होटलों के नामों की जानकारी दी जाए। 

इन सुझावों पढ़कर मुझे लगा कि एक और लेख लिखना चाहिए जिसमें बुकिंग करने की प्रक्रिया के बारे में जानाकरी देने के साथ-साथ मैं अपने अनुभव से कुछ होटलों के नामों की जानकारी दूं।

चलिए पहले बात करते हैं इन होटलों को बुक करने की प्रक्रिया के बारे में। देश के अधिकांश राज्यों में पर्यटन विभाग के साथ ही पर्यटन विकास निगम ( Tourism development corporation) भी काम करते हैं। इन्हें आप पर्यटन विभाग का सहयोगी संस्थान मान सकते हैं। सभी जगह सरकारी होटल आमतौर से इन्हीं के द्वारा चलाए जाते हैं।

कैसे करें पर्यटन विकास निगम के होटलों की बुकिंग 

आमतौर से हर राज्य के पर्यटन विकास निगम की अपनी अलग वेबसाइट है। इंटरनेट पर इन्हें आसानी से तलाशा जा सकता है जैसे आपको राजस्थान के पर्यटन विकास निगम की वेबसाइट चाहिए तो इंटरनेट पर Rajasthan tourism development corporation खोजिए। आपके यह लिंक http://rtdc.tourism.rajasthan.gov.in  मिलेगा। इस लिंक पर जाने के बाद होटल्स के सेक्शन में जाकर होटल बुक कर सकते हैं। 

इसी तरह किसी भी राज्य के पर्यटन विकास निगम की वेबसाइट को आसानी से खोजा जा सकता है। बस राज्य के नाम के साथ tourism development corporation लिखकर इंटरनेट पर खोजिए। जैसे हिमाचल प्रदेश के लिए होगा – Himachal Pradesh Tourism Development Corporation (http://hptdc.in), मध्यप्रदेश के लिए होगा Madhya Pradesh Tourism Development Corporation (http://www.mpstdc.com)

उत्तराखंड में थोड़ी अलग व्यवस्था है वहां राज्य के दो भौगोलिक हिस्से हैं गढ़वाल और कुमाऊं। इन दोनों के लिए अलग अलग मंडल विकास निगम बने हैं- गढ़वाल मंडल विकास निगम और कुमाऊं मंडल विकास निगम। इनके अंतर्गत होटल और पर्यटन से जुड़ी दूसरी गतिविधियां चलाई जाती हैं। उत्तराखंड के लिए गढ़वाल मंडल विकास निगम (https://gmvnonline.com/) या कुमाऊं मंडल विकास निगम (http://kmvn.in) के ज़रिए होटल बुक किए जा सकते हैं। बस आपको यह देखना होगा कि आप उत्तराखंड में जिस जगह जा रहे हैं वह राज्य के गढ़वाल मंडल में है या कुमाऊं मंडल में। 

कुमाऊं के बिनसर और मुक्तेश्वर के होटलों के बारे में मेरे Youtube चैनल पर दिए वीडियो भी देख सकते हैं।

राज्यों के पर्यटन विभाग की वेबसाइट्स में भी पर्यटन विकास निगम का लिंक मिल जाता है। कोई परेशानी होने पर पर्यटन विभाग के कस्टमर केयर नंबर से भी जानकारी ले सकते हैं। 

ध्यान दें – पर्यटन विकास निगम के अंतर्गत चलने वाले होटलों की बुकिंग इनकी आधिकारिक वेबसाइट से ही करनी होगी। ऑनलाइन होटल बुकिंग करने वाली दूसरी वेबसाइट्स पर आपको इन होटलों की जानकारी नहीं मिलेगी। 

पर्यटन विकास निगम पर मिलने वाली अन्य सुविधाएं 

पर्यटन विकास निगमों को राज्य के पर्यटन विकास के लिए बनाया जाता है। इसलिए आमतौर से पर्यटन विकास निगम होटल के अलावा पर्यटन से जुड़ी दूसरी गतिविधियां भी चलाते हैं। जैसे कि टूर पैकेज, सिटी टूर, बस, रेस्टोरेंट, ट्रैंकिग आदि। 

आप चाहें तो इनकी दूसरी सुविधाओ को भी फायदा उठा सकते हैं। कम कीमत में अच्छी सुविधा मिल सकती है। 

मैंने उत्तराखंड में आदि कैलाश की ट्रैंकिंग यात्रा कुमाऊं मंडल विकास निगम के टूर पैकेज पर ही की थी। इसी तरह हिमाचल पर्यटन विकास निगम दिल्ली से शिमला और मनाली जैसी जगहों के लिए एयरकंडीशन बसों का भी संचालन करता है। 

राजस्थान पर्यटन निगम के साथ आप जयपुर का सिटी टूर कर सकते हैं। दुनिया भर में राजस्थान पर्यटन निगम भारतीय रेलवे के साथ मिलकर अपने शाही सफर के लिए पहचाने जाने वाली पैलेस ऑन व्हील्स जैसी लग्ज़री ट्रेन भी चलाता है। इस तरह की ढेरों सुविधाएं इनकी वेबसाइट्स पर मिल जाएंगी। 

मेरा ख्याल है इससे आपको काफी साफ हुआ होगा कि किसी राज्य में पर्यटन विकास निगम के होटल को कैसे बुक किया जा सकता है। फिर भी कोई परेशानी हो तो कमेंट सेक्शन में लिखकर मुझसे जानकारी ले सकते हैं। 

पर्यटन विभाग के जुड़े कुछ होटलों की जानकारी 

मैंने काफी जगहों पर पर्यटन विभाग के होटलों में रुका हूं। पहले वाले लेख में भी आपको कुछ जगहों के नाम मिलेंगे। यहां भी मैं कुछ नाम लिख रहा हूं। मैं उन्ही होटलों के नाम दे रहा हं जहां मैं रुक चुका हूं। पर्यटन विभाग के अंतर्गत देश में सैंकड़ों होटल चलते हैं। आप होटलों की वर्तमान स्थिति की जानकारी के लिए इंटरनेट का सहारा ले सकते हैं। 

उत्तराखंड ( कुमाऊं मंडल) –

काठगोदाम, नैनीताल, रामगढ़, मुक्तेश्वर, रानीखेत, कौसानी, शीतलाखेत, बिनसर, जागेश्वर, धारचुला, बागेश्वर

हिमाचल – 

कल्पा, मैक्लाडगंज 

जम्मू और कश्मीर – 

पटनीटॉप, कटरा, 

लद्दाख– 

अब लद्दाख अलग केन्द्रशासित प्रदेश है। मैं जब गया था यह जम्मू कश्मीर का हिस्सा था। उस समय डिस्किट और द्रास में पर्यटन विभाग के होटल में रुका था। अभी मुझे लद्दाख पर्यटन की आधिकारिक वेबसाइट इंटरनेट पर नहीं मिली। शायद अभी बनी नहीं है। इसलिए इनके होटलों के बारे में लेह में इनके कार्यालय के जानकारी लें। 

राजस्थान

अजमेर, उदयपुर, सवाईमाधोपुर, भरतपुर केवलादेव नेशनल पार्क

मध्यप्रदेश

जबलपुर, बांधवगढ़

केरल– 

कोवलम, कोच्ची, मुन्नार,

ऊपर बताए सभी होटलों में मैं रुक चुका हूं और मुझे ये सभी होटल अच्छे लगे। कुछ नाम मैं भूल रहा हूं, याद आने पर सूची में शामिल करुंगा। किसी-किसी में रखरखाव की समस्या के अलावा सभी अपनी लोकेशन, स्टॉफ के व्यवहार और खाने-पीने की सुविधाओं के मामले में बेहतरीन हैं। 

पर्यटन के जुड़ी जानकारियों के लिए मेरे Yotube चैनल को सब्स्क्राइब ज़रूर करें।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *