बस्तर Bastar

बस्तर Bastar

Travel Postcard

छत्तीसगढ़ का आदिवासी बहुल जिला है बस्तर। घने जंगल, जानवर, पहाड़, नदियां, झरने, गुफाएं, प्राचीन मंदिर ,महल और आदिवासी संस्कृति, बस्तर में वह सब कुछ है जो अनछुई जगहों की तलाश में निकलने वाले को चाहिए। बस्तर में आदिवासी कला के विविध रूप देखने को मिलते हैं। यहां की पीतल और कांसे की ढलाई से बनी मूर्तियां बहुत प्रसिद्ध है । इस कला को डोकरा कहा जाता है। बस्तर का दशहरा उत्सव अनूठा है जो 75 दिनों तक चलता है। बस्तर जिला मुख्यालय जगदलपुर छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से 300 किलोमीटर दूर है।

Bastar

Enriched with Natural Beauty, dense forests and Pleasant atmosphere, Bastar, a district in the state of Chattisgarh has a lot to offer. Majority of the population of Bastar is Tribal. Gond, Maria, Muria and Dhurva are some of the famous tribes here. The Uniqueness and distinctive culture and heritage of these tribes have made them famous worldwide. Bastar is also famous for the statues made of bronze and bronze molding, an art called Dhokra. The Dussehra festival of Bastar is different from others as it lasts for 75 days. Bastar district headquarter Jagdalpur is 300 km away from Chhattisgarh’s capital Raipur.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *