जार्जटाउन इतिहास के साथ आधुनिकता

जार्जटाउन इतिहास के साथ आधुनिकता

मलेशिया का ख़ूबसूरत हिस्सा है पेनांग। पेंनांग राज्य की राजधानी जार्जटाउन पर्यटकों की पसंदीदा जगह है। यह ऐसा शहर है जिसने अपने पुराने इतिहास को बनाए रखते हुए आधुनिकता को अपनाया है। जार्जटाउन एक द्वीप पर बसा है। यही वजह थी कि अंग्रेजों की नज़र इस पर पड़ी। उन्होंने इस पर कब्ज़ा किया और इसे बंदरगाह के तौर पर विकसित किया। जार्ज टाउन के पुराने ऐतिहासिक इलाके में हर तरफ अंग्रेजी दौर की इमारतें नज़र आती हैं। अंग्रेजों के आने के बाद यहां भारत और चीन से लोगों को आना शुरू हुआ। अंग्रेजों को यहां काम करने के लिए लोगों की ज़रूरत थी। भारतीय और चीनी लोगों ने उस ज़रुरत को पूरा किया। धीरे-धीरे भारतीय और चीनी लोग यहां की संस्कृति का हिस्सा हो गए। यहां मलय, भारतीय और चीन संस्कृति को मेल नज़र आता है। सड़क के एक तरफ हिन्दू मंदिर है तो दूसरी तरफ चीनी मंदिर। यह सांस्कृतिक विविधता खाने-पान और पहनावे में भी नज़र आती है। पेनांग की इतनी ख़ूबियों के कारण यूनेस्को ने 2008 में इसे विश्व विरासत स्थल की सूची में शामिल किया। इसमें शामिल होने से फायदा हुआ कि विरासत को सहजने का काम और भी तेज़ी से शुरू हुआ। पेनांग के इतिहास के साथ ही यहां के स्ट्रीट आर्ट ने भी दुनिया भर में अपनी पहचान बनाई है। शहर के विश्व विरासत स्थल की सूची में शामिल होने बाद यहां स्ट्रीट आर्ट कल्चर की शुरूआत हुई। शहर को लगा कि इतिहास के अलावा भी कुछ होना चाहिए जो यहां लोगों को खींच कर ला सके। इसके बाद कुछ जाने-माने कलाकारों में शहर की सड़कों के किनारे दीवारों पर चित्र बनाए। देखते ही देखते पेनांग ने स्ट्रीट आर्ट के शहर के तौर पर अपनी पहचान बना ली। अब यहां इतिहास को पसंद करने वालों के साथ ही वे लोग भी आते हैं जिन्हें आर्ट में दिलचस्पी है। इस शहर पर लिखने को बहुत कुछ है लेकिन इस बार मैंने उसे अपनी यूट्यबू वीडियो सीरीज़ में समेटा है। इस सीरीज़ में चार वीडियो हैं। इनसे आपको पेनांग शहर को करीब से जानने और समझने का मौका मिलेगा।

पेनांग ट्रैवल गाइड – पेनांग और जार्जटाउन के बारे में ज़्यादा जानकारी के लिए नीचे बताई गाइड बुक पढ़ सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *