तरंगमबाड़ी

तरंगमबाड़ी

तरंगमबाड़ी
तमिलनाडु का तरंगमबाड़ी डच उपनिवेश का हिस्सा था। 1620 से 1845 तक यह एक डच कॉलोनी रहा। यही कारण है कि यहां डच वास्तुकला की बहुत सी इमारतें देखी जा सकती हैं। यहां डच लोगों का बनवाया किला देखा जा सकता है। जिसमें एक संग्राहलय भी है।डय समय में यह एक बड़ी व्यापारिक मंडी था। यहां पांड्य राजाओं का बनवाया 14वीं शताब्दी का शिव मंदिर है। कई पुराने चर्च भी यहां देखे जा सकते हैं। इनमें सन् 1701 में बना जियोन चर्च और सन् 1718 में बना येरूशलम चर्च प्रमुख हैं। तरंगमबाड़ी नागपट्टनम से 35 किलोमीटर दूर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *