Browsed by
Tag: Dubai

भारतीयों के लिए दुबई वीज़ा

भारतीयों के लिए दुबई वीज़ा

काँच और स्टील से बनी ऊँची इमारतें, चमक-दमक से भरे शॉपिंग माॉल्स और घूमने के लिए एक सुरक्षित ठिकाना होने के कारण दुबई दुनिया में सबसे ज्यादा घूमे जाने वाले शहरों की सूची में अगले नंबर पर आता है। दुबई जाने वाले भारतीय पर्यटकों की संख्या भी बहुत तेज़ी से बढ़ रही है। मुझे ये शहर बहुत पसंद है और पिछले कुछ वर्षों में मैं तीन बार यहाँ जा चुका हूँ। मैं दुबई घूमने के अपने अनुभव साझा करूँ उससे पहले इस लेख में दुबई वीज़ा कैसे मिले इस बारे में बता रहा हूँ।

कैसे लें दुबई वीज़ा

दुबई वीज़ा के लिए आवेदन करने से पहले मुझे यही पता था कि दुबई दुनिया के उन कुछ देशों में से है जो भारतीयों को आसानी से वीज़ा देता है। मैंने जब तलाश करने की कोशिश की तो पता चला कि यह बात सही है तो है लेकिन पूरी तरह नहीं। जानने कि कोशिश करते हैं कि ऐसा कैसे हैं।
दरअसल बात यह है कि दुबई के लिए वीज़ा नियम आसान तो हैं लेकिन वे एक जैसे नहीं है। आप पर कैसे नियम लागू होंगे यह इस बात पर निर्भर करता है कि आप कहाँ से वीजा के लिए आवेदन कर रहे हैं। आप को आसान ज़रिया भी मिल सकता है और थोड़ा मुश्किल भी। मुश्किल से मेरा मतलब है कि आपको बैंक डिटेल, इनकम टैक्स रिटर्न या अपनी नौकरी से जुड़े दस्तावेज जमा करने पड़ सकते हैं।

संयुक्त अरब अमीरात का भारतीय दूतावास सीधे वीज़ा की सुविधा नहीं देता । दुनिया भर में आधिकारिक रूप से अधिकतर देशों के लिए वीज़ा देने का काम देखने वाली कंपनी VFS भारत में केवल उन्हीं लोगों को दुबई वीज़ा देती है जो दुबई की आधिकारिक एयरलाइन्स एमिरेट्स या फ्लाईदुबई के जरिए यात्रा करते हैं। दूसरे लोगों को एयरलाइन्स या एजेंट्स के ज़रिए वीज़ा लेना होता है।

दुबई या संयुक्त अरब अमीरात के लिए ई-वीज़ा की सुविधा है।आप चाहे किसी भी तरीके से वीज़ा लें, आपको किसी ऑफिस या दूतावास में जाने की जरूरत नहीं पड़ती। बस ईमेल से अपने ज़रूरी दस्तावेज़ भेजने के बाद आपको ई-वीज़ा मिल जाता है।

भारतीयों को निम्नलिखित 4 प्रमुख तरीकों से दुबई का पर्यटन वीज़ा मिल सकता है।

1- वीजा ऑन अराइवल
2- एयरलाइन्स के ज़रिए
3- वीज़ा एजेंट्स के ज़रिए
4- ट्रांजिट वीज़ा ( अभी घोषणा लेकिन लागू नहीं)

अब मैं एक-एक करके सभी तरीकों के बारे में आपको बताऊंगा जिसके आपको अंदाजा हो जाएगा कि आपके लिए कौनसा तरीका आसान रहेगा।

1- वीज़ा ऑन अरावल –
इसका मतलब है दुबई एयरपोर्ट पहुँचने पर आपको आसानी से वीज़ा मिल जाएगा। लेकिन इसमें एक शर्त यह है कि भारतीय पासपोर्ट धारकों के पास पहले से अमेरिका का वैध विजिटर वीज़ा या ग्रीन कार्ड होना चाहिए। इसके साथ ही ब्रिटेन या यूरोपियन यूनियन का रेजिडेंसी वीजा रखने वाले भारतीय भी इस वीज़ा ऑन अराइवल की सुविधा का फायदा उठा सकते है। भले ही यह सबके लिए नहीं लेकिन फिर भी काफी भारतीय इस सुविधा का लाभ उठा सकते हैं।

फीस- इस सुविधा को लेने के लिए आपको 100 दिरहम का शुल्क चुकाना होगा। साथ में 20 दिरहम का सर्विस चार्ज भी देना होगा।

अवधि- एक बार में 14 दिन का वीज़ा लिया जा सकता है। जिसे 250 दिरहम का शुल्क चुकाकर अगले 14 दिन तक बढ़वाया जा सकता है। वीज़ा बढ़वाने की सुविधा एक ही बार मिलेगी।

2- एयरलाइन्स के ज़रिए-
भारत से दुबई जाने वाली लगभग सभी हवाई कंपनियां अपने ग्राहकों के लिए दुबई वीज़ा दिलवाती हैं। इसके लिए आपको संबंधित एयरलाइन की वेबसाइट के जरिए आवेदन करना होता है। वीज़ा फीस चुकाने के बाद आपको ईमेल के जरिए ई-वीज़ा मिल जाता है।
अगर आप दुबई की आधिकारिक एयरलाइन्स , एमिरेट्स या फ्लाई दुबई से यात्रा कर रहे हैं तो फिर VFS के जरिए आप दुबई वीजा के लिए आवेदन कर सकते हैं। VFS केवल एमिरेट्स या फ्लाई दुबई से रिटर्न टिकट खरीदने वालों को वीज़ा सुविधा देता है।
इसके अलावा भारत से जाने वाली दूसरी एयरलाइन्स जैसे एयरइंडिया, इंडिगो, स्पाइस जेट, जेट एयरवेज़, एतिहाद और एयर एरेबिया भी वीज़ा की सुविधा देती हैं। इसके लिए नियम यह है कि आप जिस एयरलाइन के ज़रिए वीज़ा का आवेदन कर रहे हैं आपके पास उस एयरलाइन का रिटर्न टिकट होना चाहिए।

लेकिन यहीं आकर दुबई वीज़ा लेने की दुविधा शुरु होती हैं। एयरलाइन्स के जरिए वीज़ा का आवेदन करने पर आपको अपने बैंक डिटेल के साथ दो साल का आटीआर या फिक्सड डिपोजिट या पैन कार्ड की जानकारी देनी पड़ती है। अलग -अलग एयरलाइन्स के हिसाब से इनमें कुछ अंतर हो सकता है। जब दूसरे आसान उपाय मौजूद हैं जहां बिना किसी तरह की जानकारी दिए दुबई वीज़ा मिल जाता है ( उसका जिक्र आगे ) तो एयरलाइन्स के ज़रिए वीजा लेने में मुश्किल नियम क्यों रखें गए हैं यह समझ नहीं आया।

अगर आप एमिरेट्स या फ्लाई दुबई के टिकट से यात्रा कर रहे हैं तो इतनी आसानी जरूर मिलती है कि अगर आपने आवेदन करने के पिछले पांच वर्ष के भीतर दुबई की यात्रा की है या आपके पास अमेरिका , ब्रिटेन, यूरोप, जापान, आस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, कनाडा या स्विटज़रलैंड का वैध वीज़ा है तो आपको किसी तरह की बैंक या आटीआर की जानकारी नहीं देनी पड़ती।

दुबई वीज़ा के लिए इतने अलग नियम क्यों रखे हैं यह समझ नही आता? एक देश जो पर्यटन में दुनिया का अगुआ बनने की इच्छा रखता है वहां एक जैसे नियम होना बेहतर रहता है।

3- वीज़ा एजेन्ट्स के ज़रिए —
दुबई का वीज़ा लेने का सबसे आसान ज़रिया हैं वीज़ा एजेंट्स जो बिना किसी परेशानी के आपको वीज़ा दिला देते हैं। बस आप ईमेल से अपना पासपोर्ट और पासपोर्ट साइज फोटो ( सफेद बैंकग्राउन्ड के साथ ) उनको भेज दीजिए और 2-3 दिन में आपको ईमेल पर वीज़ा मिल जाएगा। हालांकि हर एजेन्ट की वीज़ा फीस में अंतर हो सकता है। मुझे अलग- अलग वीज़ा एजेन्ट की फीस में 500 रूपये तक का अंतर मिला। मोटे तौर पर फिलहाल 6000 रूपये में आप दुबई का वीज़ा ले सकते हैं।

एजेन्ट से वीज़ा लेना आसान तो है लेकिन एजेंट्स भी अपने हिसाब से दस्तावेज मांगते हैं। मैने पहले वीज़ा के लिए Musafir से बात की और उन्होंने केवल पासपोर्ट और फ़ोटो ही मांगा। जबकि अकबर ट्रेवल ने पहले तो केवल पासपोर्ट और फ़ोटो देने को कहा लेकिन बाद में मुझसे नौकरी से जुड़ा और पहचान पत्र मांगा। इसलिए आप अपने हिसाब से कुछ एजेन्टस से बात कर लें। मैंने आखिर में travel2dubai से वीज़ा लिया।

4- मुफ्त ट्रांजिट वीज़ा –
मुफ्त ट्रांजिट वीजा के इस नियम की घोषणा हाल ही में की गई है। इसे लागू करने की तारीख़ के बारे में अभी कुछ नहीं कहा गया है। उम्मीद है कि जल्द ही यह नियम लागू हो जाएगा। अगर आप भारत से दुनिया के किसी देश में जा रहे हैं और उस दौरान आपको बीच में दुबई से अपनी फ्लाइट बदलनी है तो आप इस सुविधा का फायदा ले सकते हैं। इसके तहत आपको 48 घंटे के लिए दुबई का मुफ्त ट्रांजिट वीजा एयरपोर्ट पर ही दिया जाएगा । इसके लिए शर्त यह है कि आपको आपके पास आपके पास किसी तीसरे देश में जाने का वैध हवाई टिकट होना चाहिए। ये सुविधा पूरी तरह से मुफ्त हैं। आप चाहें तो इसे 96 घंटे के लिए भी यह वीज़ा ले सकते हैं जिसके लिए आपको 50 दिरहम की फीस चुकानी होगी। अगर आप दुबई के रास्ते कहीं जा रहे हैं तो इस आसान और मुफ्त सुविधा का लाभ उठाकर बहुत कम खर्च में दुबई घूम सकते हैं। क्योंकि ध्यान रखिए दुबई के सामान्य टूरिस्ट वीज़ा के लिए आपको ख़ासी रकम खर्च करनी पड़ती है।

OTB ( Ok to Board) – दुबई वीज़ा से जुड़ी एक जरूरी बात है OTB। ध्यान रखिए कि टूरिस्ट वीज़ा पर दुबई जाने वालों को अब OTB की जरूरत नहीं होती। हां, अगर आपके पासपोर्ट पर ECR स्टैम्प है तो आपको टूरिस्ट वीज़ा लेने पर भी OTB करवाना होगा।

जरूरी बेवसाइट-
दुबई वीज़ा से जुडी आधिकारिक जानकारी के लिए यूएई इमिग्रेशन की वेबसाइट- https://government.ae/en/information-and-services/visa-and-emirates-id
यहाँ सभी जरूरी जानकारियाँ आपको मिल जाएंगी। इसके अलावा सभी एयरलाइन्स की वेबसाइट्स और VFS की बेवसाइट पर भी जानकारी मिल जाएगी।

दुबई वीज़ा के लिए कुछ एजेंट्स – musafir.com, akbartravels.com, travel2dubai.com