भारतीय स्वाद से भरी जापानी सुशी

भारतीय स्वाद से भरी जापानी सुशी

खाने में मुझे भारतीय खाना ही पसंद है। दाल, चावल , सब्जी
रोटी से ज्यादा कभी इच्छा भी नहीं रही। विदेशी खाने में मेरी पसंद चायनीज से आगे
नहीं जाती। और भारत में बनने वाला चायनीज खाना अब चायनीज कम और भारतीय ज्यादा हो
गया है। ऐसे में कोई मुझे जापानी खाने के लिए कहे तो मेरा चौंकना तो स्वाभाविक है।
ऊपर से मेरे जैसे शाकाहारी के लिए जापानी खाना बात कुछ जमती नहीं। लेकिन खाने का
शौक तो मुझे है और जब पता लगा की शाकाहारी जापानी खाना है मैंने भी चखने का मन बना
ही लिया।
दोस्तों के साथ था तो दिल्ली के मालवीय नगर में  सुशी जंक्शन नाम से खुले एक जापानी रेस्टोरेंट से सुशी के शेफ सलेक्शन प्लेटर का आर्डर दिया
गया। रेस्टोरेंट की तरफ से पक्का भरोसा मिला कि पूरी तरह से शाकाहारी सुशी ही
मिलेगी। हालांकि उनके पास मासांहारी सुशी भी मौजूद हैं।  

आर्डर करने के थोडी ही देर
में ताजा बनी सुशी के डिब्बे हमारे सामने थे। हर डिब्बे में तीन तरह की सुशी का
मिक्स बनाकर रखा गया था। पैंकेजिंग देखकर मन खुश हो गया। कहा भी गया है कि खाने की
थाली जितनी सुन्दरता से सजी होगी खाने वाले को भी उतना ही आनंद मिलेगा। तो डिब्बे
की सजावट और उसमें करीने से रखी सुशी ने पहले ही दिल जीत लिया।
अब बारी थी उसे खाने की , खाने
के लिए साथ में चॉपस्टिक दी गई थी। जापान के लोग सुशी खाने के लिए चॉपस्टिक का
कितना इस्तेमाल करते हैं यह तो मुझे नहीं पता लेकिन इंटरनेट पर ढूंढने से पता चला
कि पारम्परिक तौर से इसे हाथ से ही खाया जाता है। लेकिन मैंने सोचा की पहली बार
सुशी खा ही रहे हैं तो लगे हाथ पहली बार चॉपस्टिक का इस्तेमाल भी  करके देख लिया जाए। मेरे दोस्त अभिनव का साथ
होना काम आया क्योंकि होटल मेनेजमेंट की पढ़ाई कर चुके अभिनव का खाने की चीजों के
साथ लंबा रिश्ता रहा था , अभिनव ने चॉपस्टिक इस्तेमाल करने का तरीका भी सिखा दिया
अब हाथ में चॉपस्टिक पकडकर
कर पहली सुशी को उठाया । साथ में आए सोया सॉस और वसावी में डुबाया और सफाई के साथ
सुशी मुंह के अंदर। पहली बार में ही चॉपस्टिक से बिना कुछ गिराये में सुशी खाने
में सफल रहा था।

अब मेरे मुंह में गई सुशी
का स्वाद भी पता चलने लगा था। भारतीय सब्जियों को चावल में लपेट कर अच्छी सी
भारतीय स्वाद से भरी सुशी तैयार की गई थी। स्वाद लाजवाब था। सुशी पहले पहले टेस्ट
में सफल और मैं तो उसके बाद खाने में जुट गया। उसके बाद नंबर आया पनीर से भरी सुशी
का स्वाद में वह पहले वाले से भी अव्वल। भई जापानी खाना तो मुझे भा गया। फिर तो एक
के बाद एक जितनी मिली मैं खाता ही चला गया। भारतीय स्वाद के हिसाब से बेहतरीन
शाकाहारी सुशी तैयार की गई थी। पहले हमने डरते – डरते सुशी के कम ही डिब्बे मंगवाए
थे पर अब लगने लगा कि शायद कुछ और मंगा लेते तो ज्यादा अच्छा रहता। खैर अब तो
फिलहाल जो था उन्ही से काम चलाना था तो जिसके हिस्से में जितना आया मजे से स्वाद
लेकर खाया।
सुशी के साथ मेरा पहला
एनकाउंटर तो बेहद सफल रहा। इतनी बढिया चीज की फिर मौका मिले तो जरूर खाऊंगा।
सुशी होता क्या है –
यह एक जापानी भोजन है जिसे
खास तरह से जापानी चावल ( स्टिकी राइस) के बीच में मछली भर कर तैयार किया जाता है।
पारम्परिक रूप से सुशी मांसाहारी ही होती है। लेकिन शाकाहारी सुशी भी
बनाई जाती है ।
सुशी का मजा उसके साथ मिलने
वाला सोया सॉस और वसावी के कारण और भी बढ जाता है। वसावी एक तरह की तीखी जापानी
चटनी होती है जिसे वसाबी नाम के पौधे के तने से बनाया जाता है।

नोट – यहां इस्तेमाल की गई फोटो सुशी जंक्शन से ली गई हैं। उनकी अनुमति के बाद ही
यहां इस्तेमाल किया गया।
सुशी जंक्शन की वेबसाइट से इसकी ज्यादा जानकारी ली जा
सकती है। 

4 thoughts on “भारतीय स्वाद से भरी जापानी सुशी

  1. बढ़िया वर्णन किया है दीपांशु, पढ़कर खाने का मन करने लगा। सुशी जंक्शन की तरफ जाना हुआ तो जरूर खाऊंगा अब।
    🙂

  2. मन ललचा गया आपका वर्णन सुनकर और ये लीजिए मुख में पानी भी आ रहा है। भाई अब तो शाकाहारी सुशी हमें भी चखनी पडेगी।

  3. Gradually I am picking taste for Sushi and though I am not a vegetarian, I like it more than the authentic one made in Japanese style.

    After Delhi, I was lucky to get vegetarian Sushi options in Mauritius too.
    Sushi Junction is definitely doing a great job. I have tasted their veg and non-veg Sushi both and its delicious.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *